संपर्क में


'संपर्क में', - पृथक्‍कृत कार्मिक पटल में आपका स्‍वागत

ओएनजीसी अपने वरिष्‍ठ और अनुभवी जनों की देखभाल करने में सदैव सक्रिय रहा है, जिन्‍होंने इस महान संगठन की सेवा में जीवन के अपने बहुमूल्य वर्ष समर्पित किए हैं । इन निष्ठावान जनों के उत्‍साह, जोश और परिश्रम ने इस संगठन को प्रारंभिक वर्षों के दौरान असीम क्षमता और महत्व दिया है, जिसने इस कंपनी को अग्रणी महारत्‍न ऊर्जा कंपनी के रूप में भारतीय सार्वजनिक क्षेत्र के शिखर पर लाने में सहायता प्रदान की है।

ओएनजीसी प्रबंधन, सभी संभावित अवसरों के जरिए अपने सेवानिवृत्‍त कार्मिकों को सहायता प्रदान करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता के साथ खड़ा है। हाल के वर्षों में ओएनजीसी के प्रबंधन ने चिकित्‍सा सुविधाओं, वृद्धावस्‍था सम्‍मान आदि के क्षेत्र में सेवानिवृत्‍त कार्मिकों के लिए अनेक लाभ आरंभ किए हैं और उनमें वृद्धि की है। आशा किरण योजना के प्रारंभ का सभी सेवानिवृत्‍त कार्मिकों द्वारा व्यापक रूप से  स्‍वागत किया गया और सराहना की गई है।

सेवानिवृत्‍त कार्मिकों द्वारा सामना किए गए मुद्दे ओएनजीसी के प्रबंधन की वरीयता में सबसे ऊपर दिखाई देते हैं। यह सुनिश्चित करने के लिए सतर्कता बरती जाती है कि सेवानिवृत्‍त कार्मिकों को सभी अद्यतन परिपत्र और लाभ यथाशीघ्र संसूचित किए जाएँ ।

सेवानिवृत्‍त कार्मिकों के लाभ के लिए और ओएनजीसी के साथ बंधुत्व से उन्‍हें जोड़े रखने के लिए ओएनजीसी के सेवानिवृत्‍त कार्मिकों के लिए एक अनन्‍य वेब पोर्टल 'बंधन' का शुभारंभ ओएनजीसी के 59वें स्‍थापना दिवस के अवसर पर किया गया है।

ओएनजीसी के सेवानिवृत्‍त कार्मिकों से अनुरोध है कि वे 'बंधन' वेब पोर्टल के जरिए जुड़े रहें, जिस पर नीचे दिए गए लेख से एक्‍सेस किया जा सकता है:

www.bandhan.ongc.co.in