• कॉर्पोरेट प्रोफाइल

नया क्या है

ओपल

ओएनजीसी पेट्रो-एडिशंस लिमिटेड (ओपीएएल), जो एक निजी संयुक्‍त उद्यम कंपनी है, का अधिनिगमन 26 प्रतिशत और 5 प्रतिशत स्‍टेकों के साथ क्रमश: ऑयल एंड नैचुरल गैस कारपोरेशन (ओएनजीसी) और गुजरात स्‍टेट पेट्रोलियम कारपोरेशन (जीएसपीसी) द्वारा वर्ष 2006 में किया गया था। बाद में गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) ने भी ओपीएएल में 19 प्रतिशत स्‍टेक अर्जित कर लिया।

ओएनजीसी की सी2-सी3 परियोजना

opal-plantयह परियोजना ओएनजीसी पेट्रो-एडिशंस लिमिटेड (ओपीएएल) द्वारा कार्यान्वित की जा रही है। चूंकि ओएनजीसी को कतर से मैसर्स पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड, मैसर्स रास गैस द्वारा आपूर्ति की गई, संबद्ध एलएनजी का पहला 5 एमएमटीपीए से समृद्ध सी2+ संघटकों का निष्‍कर्षण करने का अधिकार दिया गया है, इसलिए ओएनजीसी ने दहेज, गुजरात के विशेष आर्थिक ज़ोन में अपने किस्‍म का एक पहला सी2+ निष्‍कर्षण संयंत्र स्‍थापित किया है। निष्‍कर्षण संयंत्र से सी2+ स्‍टीम और ओएनजीसी के उरान तथा हजीरा संयंत्रों से उत्‍पादित नाफ्था पर आधारित ओएनजीसी ने 1.1 एमएमटीपीए दोहरे फीड क्रैकर की एक मेगा पेट्रोकेमिकल परियोजना की संकल्‍पना की है, जो 1100केटीपीए एथिलीन और 360 केटीपीए प्रोपिलीन का उत्‍पादन करेगी, जिसे एचडीपीई, एलएलडीपीई, पीपी, बुटेने-1 आदि जैसे पॉलिमरों के विभिन्‍न ग्रेड उत्‍पन्‍न करने के लिए डाउनस्‍ट्रीम इकाइयों में प्रोसेस किया जाएगा।