• कॉर्पोरेट प्रोफाइल

नया क्या है

निदेशक (अपतट)

Director Offshore
टी के सेनगुप्ता

श्री तपस कुमार सेनगुप्‍ता ने 01 फरवरी, 2014 को नए निदेशक (अपतट) के रूप में पदभार ग्रहण किया।

जादवपुर विश्‍वविद्यालय, कलकत्‍ता से प्रथम श्रेणी में केमिकल्‍स इंजीनियरी में स्‍नातक श्री सेनगुप्‍ता ने इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय मुक्‍त विश्‍वविद्यालय से प्रबंधन में भी डिप्‍लोमा प्राप्‍त किया।

श्री तपस कुमार सेनगुप्‍ता उत्‍पादन इंजीनियरी के चुने हुए क्‍लब में से एक हैं, जिसे अभितट और अपतट दोनों फील्‍ड प्रचालनों का संतुलित अनुभव प्राप्‍त है। उनके अभितट अनुभव पोर्टफोलियो में 11 वर्षों की गुजरात और असम में कूप सेवाएं और ओएनजीसी विदेश के भाग के रूप में सूडान में चार वर्ष शामिल हैं। ग्रेटर नील पेट्रोलियम प्रचालन कंपनी में महाप्रबंधन के रूप में सूडान में उनके विदेश में चार वर्ष के कार्यकाल में अभिनव इंजीनियरी हस्‍तक्षेपों के जरिए तेल उत्‍पादन में वृद्धि हुई।

अपतट फील्‍ड मुंबई में उनके 18 वर्ष के कार्यकाल में से 12 वर्ष तक उन्‍होंने कूप सेवाओं में मुंबई हाई में कार्य किया, जिसमें उत्‍पादन वृद्धि के अनेक कार्य सफलतापूर्वक किए। वह, नए प्रौद्योगिकी कार्यों, जैसे 1992-94 में मुंबई हाई के कठिन कूपों में वाटर शट ऑफ एवं गैस शट ऑफ, के लिए परियोजना समन्‍वयक थे। श्री सेनगुप्‍ता ओएनजीसी के अपतटीय रुग्‍ण कूप इनवेंट्री के कार्य-निष्‍पादन में सुधार करने में भी सहायक थे। वह 1996 में सर्वोत्‍तम उत्‍पादन इंजीनियर के लिए और 2001 में सर्वोत्‍तम व्‍यावसायिक इंजीनियर के लिए अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक पुरस्‍कार के प्राप्‍तकर्ता थे।

श्री सेनगुप्‍ता, ओएनजीसी के अनेक संगठनात्‍मक संक्रांति कालों में एक मौन उत्‍प्रेरक रहे हैं। वह, अरब सागर पर नीलम पायलट में प्रथम बहु-विधा दल सदस्‍य के एक भाग के रूप में आरंभ की गई संगठनात्‍मक रूपांतरण परियोजना (ओटीपी – सीआरसी का अग्रदूत) से संबद्ध थे।